Vishnu Nagar/विष्णु नागर
लोगों की राय

लेखक:

विष्णु नागर

जन्म : जून 14, 1950

शिक्षा : बचपन और छात्र-जीवन शाजापुर (मध्य प्रदेश) में बीता।

1971 से दिल्ली में स्वतंत्र पत्रकारिता शुरू की। ‘नवभारत टाइम्स’ में पहले मुम्बई और बाद में दिल्ली में विशेष संवाददाता सहित विभिन्न पदों पर 1974 से 1997 के आरम्भ तक रहे। इस बीच 1982 से 1984 तक जर्मन रेडियो ‘डोयचे वैले’ में सम्पादक रहे। 1997 से 2002 तक ‘हिन्दुस्तान’ (दैनिक) के विशेष संवाददाता। 2003 से 2008 तक हिन्दुस्तान टाइम्स ग्रुप की पत्रिका ‘कादम्बिनी’ के कार्यकारी सम्पादक रहे। कुछ समय तक दैनिक ‘नई दुनिया’ से सम्बद्ध रहे।

प्रकाशित कृतियाँ

कहानी-संग्रह - ‘आज का दिन’, ‘आदमी की मुश्किल’, ‘कुछ दूर’, ‘ईश्वर की कहानियाँ’, ‘आख्यान’, ‘रात-दिन’ तथा ‘बच्चा और गेंद’।

उपन्यास - ‘आदमी स्वर्ग में’।

निबन्ध - ‘हमें देखती आँखें’, ‘आज और अभी’, ‘यथार्थ की माया’, ‘आदमी और उसका समाज’ तथा ‘अपने समय के सवाल’।

व्यंग्य संग्रह - ‘जीव-जन्तु पुराण’, ‘घोड़ा और घास’, ‘राष्ट्रीय नाक’, ‘नई जनता आ चुकी है’ तथा ‘देश-सेवा का धंधा’, ‘भारत एक बाज़ार है’।

कविता संग्रह - ‘मैं फिर कहता हूँ चिड़िया’, ‘तालाब में डूबी छह लड़कियाँ’, ‘संसार बदल जाएगा’, ‘बच्चे, पिता और माँ’, ‘कुछ चीजें कभी खोई नहीं’, ‘हँसने की तरह रोना’।

‘सहमत’ के लिए धर्मनिरपेक्ष रचनाओं के तीन संकलनों तथा ‘रघुवीर सहाय’ पुस्तक का सम्पादन असद ज़ैदी के साथ। सुदीप बॅनर्जी की प्रतिनिधि कविताओं के संकलन का सम्पादन लीलाधर मंडलोई के साथ। ‘बोलता लिहाफ’ (श्रेष्ठ कथाकारों की कहानियों का संकलन) का सम्पादन मृणाल पाण्डे के साथ।

इसके अलावा नवसाक्षरों के लिए कई पुस्तकें लिखीं तथा सम्पादित कीं।

सम्मान : ‘कथा’ संस्था का ‘अखिल भारतीय कथा पुरस्कार’, हिन्दी अकादमी, दिल्ली का ‘साहित्य सम्मान’, कविता के लिए ‘शमशेर सम्मान’, मध्य प्रदेश सरकार का ‘शिखर सम्मान’ तथा व्यंग्य के लिए ‘व्यंग्य श्री’ सम्मान आदि।

सम्प्रति : स्वतंत्र लेखन।
यह पुस्तक/पुस्तकें उपलब्ध नहीं हैं

 

  View All >>   0 पुस्तकें हैं|

A PHP Error was encountered

Severity: Warning

Message: Unknown: write failed: No space left on device (28)

Filename: Unknown

Line Number: 0

A PHP Error was encountered

Severity: Warning

Message: Unknown: Failed to write session data (files). Please verify that the current setting of session.save_path is correct (/var/lib/php5)

Filename: Unknown

Line Number: 0