Somwar Vrat Katha - Hindi book by - Gopal Shukla - सोमवार व्रत कथा - गोपाल शुक्ला
लोगों की राय

धर्म एवं दर्शन >> सोमवार व्रत कथा

सोमवार व्रत कथा

गोपाल शुक्ला

प्रकाशक : भारतीय साहित्य संग्रह प्रकाशित वर्ष : 2015
पृष्ठ :12
मुखपृष्ठ : ई-पुस्तक
पुस्तक क्रमांक : 9845

Like this Hindi book 1 पाठकों को प्रिय

सोमवार के व्रत में शिवजी और पार्वती जी का पूजन करना चाहिये।

भगवान शिव और पार्वती जी को प्रसन्न करने के लिए सोमवार व्रत का विधान है...

 

सोमवार व्रत विधि, कथा एवं आरती

सोमवार व्रत की विधि

सोमवार का व्रत दिन के तीसरे प्रहर तक होता है। व्रत में फलाहार या पारण का कोई खास नियम नहीं है किन्तु यह आवश्यक है कि दिन रात में केवल एक समय बोजन करें। सोमवार के व्रत में शिवजी और पार्वती जी का पूजन करना चाहिये। सोमवार के व्रत तीन प्रकार के हैं – साधारण प्रति सोमवार, सौम्य प्रदोष और सोलह सोमवार। विधि तीनों की एक जैसी है – शिव-पार्वती के पूजन करने के बाद कथा कहनी या सुननी चाहिये। कथा सम्पूर्ण होने पर भोग लगाकर प्रसाद ग्रहण करना चाहिये।

प्रदोष व्रत और सोलह सोमवार की अलग कथायें हैं।

* * *

आगे....

प्रथम पृष्ठ अगला पृष्ठ >>

अन्य पुस्तकें

लोगों की राय

No reviews for this book